Translate

Tuesday, March 7, 2017

कमबैक से सफल होने की चुनौती

बॉलीवुड को लेकर एक बेहद पुरानी कहावत प्रचलित है । कहा यह जाता है कि एक बार जो भी रूपहले पर्द पर आ जाए, ताउम्र उसके मोह से बाहर नहीं निकल सकता है । यह लगातार देखने को भी मिलता रहा है कि शादी के बाद भी हिरोइनें फिल्मों में काम करने के लिए आतुर दिखती हैं । इसमें कुछ भी गलत नहीं है लेकिन ये ग्लैमर की दुनिया है जहां दर्शक हीरो-हीरोइन के आकर्षण में पंसकर सिनेमा हॉल तक पहुंचते रहे हैं । यह कहना भी गलत होगा कि शादी के बाद आकर्षण खत्म हो जाता है लेकिन पुरुषवादी सोच वाले समाज में यह देखने को मिलता है कि बहुत कम हिरोइंस को दर्शकों ने शादी के बाद पसंद किया है । दर्शकों से ठुकरा दिए जाने के खतरे के बावजूद हिरोइंस इपनी बढ़ती और ढलती उम्र में भी रूपहले पर्द का मोह छोड़ नहीं पाती हैं । कुछ हिरोइंस अपनी उम्र के हिसाब से अपनी भूमिकाएं बदलती रहकर प्रासंगिक बनी रहती हैं तो कइयों को यह एहसास ही नहीं हो पाता है कि ग्लैमर का सिरा उनसे छूटता जा रहा है । कई असफलताओं के बाद उनकी समझ में ये बात आती है लेकिन तबतक बहुत देर हो चुकी होती है । इस पूरे बैकग्राउंड को बताने का मकसद सिर्फ इतना था कि हाल ही में खबर आई है कि अपने जमाने की मशहूर और हिट अभिनेत्री रानी मुखर्जी एक बार फिर से बॉलीवुड का दरवाजा खटखटाने जा रही हैं । यशराज फिल्म के बैनर तले बनने वाली फिल्म हिचकी में रानी मुखर्जी को लीड रोल के लिए साइन किया गया है । इस फिल्म को सिद्धार्थ मल्होत्रा डायरेक्ट करेंगे औकर मनीष शर्मा उसके प्रोड्यूसर होंगे । रानी मुखर्जी अपनी इस फिल्म को लेकर खासी उत्साहित दिख रही हैं । यशराज फिल्मस के आदि चोपड़ा के साथ ब्याह रचाने के बाद रानी मुखर्जी फिल्म मर्दानी में नजर आई थीं लेकिन उसके बाद खबर आई थी कि वो मां बनने वाली हैं लिहाजा वो फिल्मों से दूर रही । अब जब उनकी बेटी थोड़ी बड़ी हो गई हैं तो उन्होंने एक बार फिर से बॉलीवपड का रुख किया है । ऐसा नहीं हैं कि शादी और मां बनने के बाद फिल्मों में वापसी करनेवाली रानी मुखर्जी पहली हिरोइन हैं । अभी हाल के दिनों में हीउनकी कज़न काजोल ने भी पारिवारिक जिम्मेदारियों को निभाने के बाद कई फिल्में की, जिनमें से कुछ सफल रहीं तो कुछ को औसत सफलता मिली । इसी तरह से अगर देखें तो एश्वर्या राय ने भी शादी और मां बनने के बाद दोबारा फिल्मी दुनिया में कदम रखा और सरबजीत जैसी फिल्म भी की और ऐ दिल है मुश्किल में ग्लैमरस रोल भी किया । दर्शकों ने उनको पसंद भी किया । लेकिन जिस तरह से एश्वर्या राय ने ऐ दिल है मुश्किल में अपने को एक्सपोज कर दर्शकों को लुभाने की कोशिश की उसको रेखांकित किए जाने की जरूरत है । बच्चन परिवार की बहू होने के बावजूद सफलता के लिए एश्वर्या राय ने तमाम तरह के लटके झटके दिखाए । इस मामले में काजोल ने जब फिल्मों में वापसी की तो संजीदगी के साथ । अंग प्रदर्शन आदि के सहारे से दूर रहकर उसने अपने अभिनय से दर्शकों को सिनेमा ह़ल तक लाने में सफलता पाई । अब रानी मुखर्जी के सामने यह चुनौती है कि वो दर्शकों को किस तरह से हिचकी देखने के लिए सिनेमा हॉल तक लाती है ।

रानी मुखर्जी को की कनमबैक फिल्म हिचकी उनके होनम प्रोडक्शन की फिल्म है इसका लाभ उनको मिल सकता है । इतने बड़े बैनर से कमबैक करने का अलग फायदा है । लेकिन वी आर फैमिली फेम के सिद्धार्थ मल्होत्रा का निर्देशन कैसे रहता है इसपर भी बहुत कुछ निर्भर करता है । सिद्धार्थ पहली बार यशराज बैनर के लिए फिल्म डायरेक्ट कर रहे हैं । लगभग चालीस साल की होने जा रही रानी मुखर्जी ने कई यादगार फिल्में दी हैं और उनकी झोली में सात फिल्मफेयर अवॉर्ड भी हैं । कुछ कुछ होता है में काजोल और रानी मुखर्जी की जोड़ी ने धमाल मचा दी थी      और फिल्म सुपर हिट रही थी । उसके बाद रानी मुखर्जी चोटी की हिरोइन में शुमार होने ली थी । दो हजार दो में जब साथिया फिल्म रिजील हुई तो उसमें रानी मुखर्जी ने अपने अभिनय का लोहा भी मनवा लिया । कहा गया वो कि ब्यूटी विद द ब्रेन हैं ।उसके बाद तो रानी ने बॉलीवुड पर कई वर्षों तक राज किया लेकिन इस बीच उनका दिल आदि चोपड़ा पर आ गया और उन्होंने दो हजार चौदह में शादी कर ली । ब्लैक में उनकी भूमिका के लिए रानी मुखर्जी को नेशनस अवॉर्ड भी मिला था । मेरे लिहाज से रानी ने इस फिल्म में अपने अभिनय के शिखर पर थीं । इसके बाद भी उन्होंने नो वन किल्ड जेसिका जैसी फिल्में की जिसको अपेक्षिक सफलता नहीं मिल पाई । दो हजार तीन में यह बात भी सामने आई थी कि चलते चलते के फिल्मकारों ने एश्वर्या राय को हटाकर उस फिल्म में रानी को लिया था । कहा यह गया था कि फिल्म के निर्माता ने एश्वर्या और सलमान के बीच के लफड़े को देखते हुए ऐश को फिल्म से अग कर दिया था । हलांकि तब शाहरुख खान ने रानी की तरफदारी करते हुए कहा था कि रानी ही इस फिल्म के लिए पहली पसंद थी । खैर.. अब यह देखना दिलचस्प होगा कि रान मुखर्जी अपनी कमबैक फिल्म हिचकी से अपना जलवा बिखेर पाने में कामयाब हो पाती हैं या नहीं । काजोल और श्रीदेवी ने अपनी कमबैक फिल्मों से अपने को फिर से स्टैबलिश किय़ा था, रानी के सामने वो चुनौती भी है । यशराज बैनर की इस फिल्म के लिए अभी किसी हीरो का एलान नहीं किया गया है । ब़ॉलीवुड में इस बात की चर्चा भी है कि ये नायिका प्रदान फिल्म होगी और जिसमें रानी का रोल बेहद सकारात्मक होगा । अगर ऐसा होता है तो रानी के कंधों पर फिल्म को सफल बनाने की दोहरी चुनौती होगी । 

3 comments:

Dilbag Virk said...

आपकी इस प्रस्तुति का लिंक 09-03-2017 को चर्चा मंच पर चर्चा - 2603 में दिया जाएगा
धन्यवाद

सुशील कुमार जोशी said...

बढ़िया पोस्ट।

राजा कुमारेन्द्र सिंह सेंगर said...

आपकी इस पोस्ट को आज की बुलेटिन ’आओगे तो मारे जाओगे - ब्लॉग बुलेटिन’ में शामिल किया गया है.... आपके सादर संज्ञान की प्रतीक्षा रहेगी..... आभार...